सुंदर एवं मनचाही पत्नी प्राप्त करने के लिए करें patnim manoramam dehi mantra

patnim manoramam dehi mantra

अगर आपको लगता है कि कि केवल स्त्रियां ही सुंदर एवं अच्छे वर की कामना के लिए पूजा कर सकती हैं और पुरुष नहीं ! तो आपका सोचना गलत है। जी हां! हमारे दुर्गा सप्तशती में ऐसा मंत्र (patnim manoramam dehi mantra) भी वर्णित हैं जिसे पुरुष, सुंदर एवं मनचाही पत्नी प्राप्त करने के लिए कर सकते हैं।

patnim manoramam dehi mantra
patnim manoramam dehi mantra

हालांकि हमारे यहां यह धारणा रही है कि केवल स्त्रियों के लिए ही यह कामना महत्वपूर्ण है लेकिन ऐसा नहीं है। सुखी दांपत्य जीवन पर सभी का अधिकार है चाहे पुरुष हो या स्त्री ।अगर स्त्री अपने खुशहाल दांपत्य जीवन की कामना कर सकती है तो पुरुष (patni prapti mantra) भी ऐसी जीवनसंगिनी की कामना कर सकता है जो कि उसके आगे के जीवन को खुशहाल बना सके।

और पढ़ें : उत्तम एवं मनोवांछित पति चाहिए तो करें Hey Gauri Shankar Ardhangini Mantra

हम लोगों ने अभी तक मां गौरी की शिव जी के लिए तपस्या, मां सीता को श्री राम जी के लिए गौरी पूजन में कामना करते हुए देखा है। शायद यही कारण है कि हम ऐसा मानने लगे हैं।

यहां आज हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे ही एक मंत्र (patni manorama dehi mantra) के बारे में। जो पुरुषों के लिए है जी अगर चाहे तो सच्चे मन एवं विधि से इस मंत्र को करके सुंदर एवं मनचाही पत्नी प्राप्त कर सकते हैं।

(patnim manoramam dehi mantra) विधि एवं समय :

यह मंत्र (patni manorama dehi mantra) आप अगर नवरात्रि में प्रारंभ करते हैं तो बहुत ही शुभ रहता है अगर आप नवरात्रि में प्रारंभ नहीं कर पाते हैं तो अष्टमी अथवा चतुर्दशी से भी इस मंत्र को प्रारंभ किया जा सकता है।

और पढ़ें : सर्वत्र मंगल प्राप्ति मंत्र : Sarva Mangala Mangalye Mantra Lyrics, Benefits & Meaning

प्रारंभ करने से 41 दिनों तक लगातार आपको इस मंत्र (patnim manoramam dehi mantra) की कम से कम एक माला यानी 108 बार सच्चे मन से जपना चाहिए। अगर आप इस मंत्र (patni manorama dehi mantra) ,की पांच मालाएं रोज करते हैं तो यह मंत्र जल्दी ही सिद्ध हो जाता है और असर देना प्रारंभ कर देता है। स्नानादि से निवृत्त होकर, देवी मां का ध्यान करके इस मंत्र को शुद्ध उच्चारण में करना चाहिए! इसके बाद मातारानी से अपनी मनोकामना कहकर उसे पूर्ण करने की विनती करें।

अगर आपको शंका है कि आपके उच्चारण में गलती हो सकती हैं तो आप इस वीडियो के माध्यम से, उसके साथ भी, रोज इस मंत्र (patnim manoramam dehi mantra) जप को कर सकते हैं। यहां आपको शुद्ध उच्चारण में 108 बार मंत्र जाप उपलब्ध कराया जा रहा है। मंत्र इस प्रकार है :

मंत्र :  पत्नीं मनोरमां देहि मनोवृत्तानुसारिणीम्। तारिणींदुर्गसंसार सागरस्य कुलोद्भवाम्॥

यहां वीडियो सुने :

patnim manoramam dehi mantra meaning :

हे देवी मां, मुझे मन की इच्छा के अनुसार चलने वाली, मनोहर एवं सुंदर पत्‍‌नी प्रदान करो, जो दुर्गम संसार सागर से तारने वाली तथा उत्तम कुल में उत्पन्न हुई हो।

(patnim manoramam dehi mantra)मंत्र के लाभ : अगर आप यह अनुष्ठान सच्चे मन से और निर्विघ्नं पूर्ण कर लेते हैं तो विवाह की बाधाएं शीघ्र दूर होती हैं और सुंदर एवं मनचाही मन के अनुसार चलने वाली, पत्नी प्राप्त होती है।

और पढ़ें : dehi saubhagyam aarogyam mantra : दिलाएगा आपको आरोग्य एवं सौभाग्य का वरदान

दुर्गा सप्तशती के पत्नी मनोरमा देवी मंत्र जाप के नियम :

-आपकी आयु विवाह योग्य हो।

– नवरात्रि में मंत्र जाप की शुरुआत करें तो बहुत ही शुभ रहता है।

– रोज 5 माला और कम से कम 1 माला मंत्र जाप करें।

– इस दौरान सात्विक रहें।

– मंत्र जाप लाल चंदन या रुद्राक्ष की माला से करें और भी उत्तम होगा।

-पूरी श्रद्धा तथा सच्चे मन से मंत्र (patni manoramam dehi mantra) जाप करें।

और पढ़ें : lakshmi poojan : अपार एवं स्थायी लक्ष्मी प्राप्ति के लिए करें इन 2 मंत्रों से पूजा

– एक ही समय और एक ही स्थान पर अगर आप यह मंत्र (patnim manoramam dehi mantra) जप करते हैं तो अति उत्तम रहेगा। यानी अगर आप सुबह 9:00 से 10:00 के बीच में यह मंत्र जाप करते हैं तो आगे भी 9 से 10 के बीच करें अर्थात एक समय एवं स्थान निश्चित कर लें।

Pls follow us : Facebook

If you want any online astrological consultancy, you may contact and follow us :

Know your future

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here