harmful fabrics : त्वचा को healthy रखने के लिए इन fabrics का कभी न करें इस्तेमाल

(harmful fabrics)

 

हम सभी (all of us) अपनी त्वचा (skin) को स्वस्थ (health) रखने के लिए बहुत सी चीजें (lot’s of things) करते हैं. हम सभी (all of us) के लिए ये जरूरी (important thing) है कि हम अपनी त्वचा ( our skin) की अच्छी देखभाल (care yourself) करें (harmful fabrics).

 

read more  – winter style : ठंड में स्मार्ट और अट्रैक्टिव दिखने के लिए अपनाये ये लुक

 

लेकिन, गौर करने वाली बात ये है कि आखिर हम अपनी त्वचा (our skin) की अच्छी देखभाल (good take care) के लिए किन खास बातों (remember these things) पर ध्यान देते हैं और किन जरूरी बातों (impotent thing) पर ध्यान देना भूल (forget) जाते हैं (harmful fabrics).

यहां हम आपको जो बताने की कोशिश (try) कर रहे हैं, वह यह है कि हमारे द्वारा पहने (wearing) जाने वाले कपड़े (clothes) हमारी त्वचा (skin) के ऊतकों को भी प्रभावित (effected) करते हैं. जबकि कुछ कपड़े (clothes) ऐसे होते हैं जो त्वचा (skin)  को स्वस्थ (health) रखते हैं और कुछ कपड़े (clothes) त्वचा (skin) के ऊतकों को फाड़ देते हैं, जिससे हमारे स्वास्थ्य (health) के लिए कई खतरे पैदा हो जाते हैं (dangerous).

यही कारण है (this reason) कि हमारे लिए यह समझना जरूरी (important) है कि कौन से कपड़े त्वचा (skin) के लिए नुकसानदायक (not good) हैं और कौन से अच्छे (good) हैं. इसी के बारे में हम आपके बताने जा रहे हैं कि अगर आपकी त्वचा (skin) संवेदनशील है, तो आपको कौन से फैब्रिक (fabric) से बने कपड़े (clothes)  पहनने (waring)  चाहिए और कौन से नहीं (harmful fabrics).

 

 

harmful fabrics

 

 

बैम्बू फैब्रिक (Bamboo Fabric)

धागा (thread)  तैयार करने के लिए उसमें से फाइबर (fabric) प्राप्त करने के लिए प्राकृतिक बांस (bamboo) को नरम करके बांस (bamboo) का कपड़ा (clothes) बनाया जाता है. लेकिन, यह फैब्रिक त्वचा (fabric skin) के लिए उतना अच्छा  (not good for skin) नहीं है जितना कि यह मुलायम (soft) और चमकदार (shining) दिखता है.

इसलिए आपको बांस (bamboo) से बने कपड़े (clothes) पहनने से बचना चाहिए. असल में ये कपड़े मोटे (heavy clothes) और कड़े होते हैं, ठीक उसी तरह जैसे (like this) कि यह अपने प्राकृतिक रूप (naturally) में मौजूद है, लेकिन आप यह माइक्रोस्कोप (micros shop) के बिना नहीं देख सकते हैं (harmful fabrics).

इसके अलावा, जब बांस (bamboo) को रेयान फाइबर (fabric) बनाने के लिए नरम (soft) किया जाता है, तो कई बहुत जहरीली गैसें (dangerous gas) कार्बन डाइऑक्साइड (carbon die oxide), सोडियम हाइड्रोक्साइड (sodium hydroxide) और सल्फ्यूरिक एसिड (fl uric acid) निकलती हैं. जो आपकी त्वचा (skin) को नुकसान (harmful) पहुंचाती हैं () .

 

 

harmful fabrics

 

 

ऊन  (Wool)

ऊन (woolen ) त्वचा (skin) पर खुजली (itching) और जलन (burning) को बढ़ाता है और उन लोगों (people) के लिए नुकसानदायक (harmful) है, जिन्हें पहले से ही त्वचा (skin) की समस्या (problem) है. त्वचा (skin) विशेषज्ञों (expert) का सुझाव (suggestion) है, कि यह कपड़ा (clothes) त्वचा (skin) के लिए बिल्कुल भी स्वस्थ (health) नहीं है और सूजन (swelling) , एक्जिमा और अन्य त्वचा (many skin problem) की स्थिति को बढ़ा सकता है. हालांकि, मेरिनो ऊन (woolen ) आपकी त्वचा (skin) के लिए उतना बुरा (not much bad for skin) नहीं है.

 

 

 

harmful fabrics

 

 

 

सिंथेटिक कपड़े (synthetic fabric)

सिंथेटिक कपड़े (synthetic fabric) भी त्वचा (skin) के लिए बहुत खराब (very bad) होते हैं, वे कई जहरीले रसायनों (dangerous chemical) के साथ मिलाकर (together) बनाए जाते हैं और वे हमारे सांस (breath) संबंधित समस्याएं (many problems) पैदा करते हैं (harmful fabrics).

 

read more – health tips for winter : सर्दियों में नहीं याद रहता पानी पीना, तो फॉलो करें ये काम की टिप्स

 

कहने का मतलब (Our meaning) ये है कि पसीना त्वचा (skin) में ही जमा हो जाता है जो बाद में खुजली (itching), चकत्ते और त्वचा (skin)  पर लालिमा जैसी समस्याओं  (many problem) का कारण हो सकता है. इसीलिए आपको सिंथेटिक कपड़ों (synthetic fabric) जैसे नायलॉन (nay lone), पॉलिएस्टर, एसीटेट, एक्रिलिक, रेयान (reyaon) आदि से बचना (be careful) चाहिए.

 

 

Pls follow us :

Instagram : https://instagram.com/aavaz.in?igshid=rgxb9evmtz1h

Facebook :https://www.facebook.com/aavaz.in/

Twitter : https://twitter.com/AavazIn?s=20

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here